पदोन्नति एवं मिनिस्ट्रीयल कर्मियों कि 21 मांगों पर शासनादेश ना होने पर आदोलन

उत्तरांचल मिनिस्ट्रीयल फेडरेशन ऑफ़ सर्विसेज एसोसिएशन, उत्तराखंड के द्वारा मिनिस्ट्रीयल कर्मियों की 21 बिन्दुओं पर लंबित मागों का शासनादेश जारी न होने के कारण 15 नवम्बर से 30 नवम्बर 2023 प्रदेश के सभी  मिनिस्ट्रीयल कार्मिक काली पट्टी बांधकर जनपद के विभिन्न कार्यालयों के गेट में मीटिंग करेंगे और 7 दिसम्बर को जनपद मुख्यालय में एक दिवसीय धरना कार्यक्रम तथा 14 दिसम्बर को जनपद स्तर पर चेतना रैली का कार्यक्रम की घोषणा की गयी है। 

इस कार्यक्रम की रूपरेखा पर चर्चा 8 नवम्बर को सायं 4 बजे गाँधी पार्क अल्मोड़ा में बैठक 8 दिसम्बर को कि जाएगी बैठक में विभिन्न घटक संगठनो की समस्या पर विचार विमर्श किया जायेगा। मिनिस्ट्रीयल कर्मियों द्वारा लोक निर्माण विभाग के प्रांतीय खंड के परिसर व  वन विभाग के कार्यालय में कर्मियों द्वारा परिसर के गेट में मीटिंग की गयी। 

जिसमे पुष्कर सिंह भैसौड़ा, टीका सिंह खोलिया, शंकर सिंह नायक, अमर नाथ सिंह रजवार, भीम सिंह लटवाल, पान सिंह, जनार्दन कांडपाल, मिनाक्षी तिवारी, रमा कांडपाल, हेमा, सन्तु मेहरा, बीना कनवाल, बबिता आर्या, रश्मि आर्या, शांति तड़ागी, सुनील फर्तियाल, सियाराम, गोपाल जोशी, खड़क सिंह, नवीन चन्द्र सती आदि कई लोग उपस्थित थे।