मर्दनी – बेटियों पर बढ़ते हुए अत्याचारों को देखते हुए मदन मोहन तिवारी ‘पथिक’ द्वारा लिखी गई स्वरचित कविता जरूर पढ़ें

निर्भया, हाथरस, उसके बाद ना जाने कई और आज अंकिता और आगे भी ना जाने कितने।। हालात बदलते रहेंगे मैं और आप ऐसे ही बस…

View More मर्दनी – बेटियों पर बढ़ते हुए अत्याचारों को देखते हुए मदन मोहन तिवारी ‘पथिक’ द्वारा लिखी गई स्वरचित कविता जरूर पढ़ें

हिंदी दिवस अवसर पर हुआ महिला काव्य गोष्ठी का आयोजन

“हिंदी दिवस’ के अवसर पर दिनांक 14 सितंबर 2022 को अंतर्राष्ट्रीय काव्य संस्था के तत्वाधान में ‘महिला काव्य मंच अल्मोड़ा” इकाई द्वारा हिंदी दिवस की…

View More हिंदी दिवस अवसर पर हुआ महिला काव्य गोष्ठी का आयोजन

उत्तराखंड में भर्ती परीक्षाओं में हो रही धांधलियों पर कटाक्ष करती अखिलेश टम्टा की स्वरचित कविता

22 साल का उत्तराखंड ऐसा होगा , क्या उन शहीदों ने ऐसा सोचा होगा! जहा नेताओ ने अपनी रिश्तेदारी निभाई, युवा बेरोजगारों को छलने की…

View More उत्तराखंड में भर्ती परीक्षाओं में हो रही धांधलियों पर कटाक्ष करती अखिलेश टम्टा की स्वरचित कविता

बुलंदी ने बनाया काव्य पाठ का नया विश्व रिकार्ड पूरे किये 370 घंटे

विश्व के सबसे बड़े कवि सम्मेलन जिसमें लगातार 300 घंटे तक कवि काव्य पाठ करने का सफर सफलतापूर्वक पूरा ही नहीं किया अपितु इस कार्यक्रम…

View More बुलंदी ने बनाया काव्य पाठ का नया विश्व रिकार्ड पूरे किये 370 घंटे

भ्रष्टाचार पर खुशनुमा परवीन की स्वरचित कविता

भ्रष्टाचार को देश से हटाना है, सरकार को अब हमने जगाना है, भ्रष्टाचार मुक्त देश बनाना है, भ्रष्टाचारीयो को देश से भागना है,  पदो पर…

View More भ्रष्टाचार पर खुशनुमा परवीन की स्वरचित कविता

बेरोजगार का जीवन – युवा कवियत्री अंकिता पंत की स्वरचित कविता

जीवन जीना कठिन तो था मगर बेरोजगारी ने बखूबी अहसास कराया है कैसे पत्थर सा जीना है जग में तिल-तिल मारकर खुद को जरा सा…

View More बेरोजगार का जीवन – युवा कवियत्री अंकिता पंत की स्वरचित कविता

नई दिल्ली में अल्मोड़ा के चित्रकार प्रो. शेखर चंद्र जोशी के चित्रों की प्रदर्शनी का हुआ आगाज

नई दिल्ली : कल दिनांक 1 सितंबर 2022 को नई दिल्ली में जाने माने चित्रकार प्रो. शेखर चन्द्र जोशी के चित्रों की एकल प्रदर्शनी (सोलो…

View More नई दिल्ली में अल्मोड़ा के चित्रकार प्रो. शेखर चंद्र जोशी के चित्रों की प्रदर्शनी का हुआ आगाज

बुलंदी ने पूरा किया लगातार 250 घण्टे काव्य पाठ का रिकॉर्ड

विश्व के सबसे बड़े कवि सम्मेलन जिसमें लगातार 300 घंटे तक कवि काव्य पाठ कर रहें है। जिसमे बुलंदी ने अपने पिछ्ले वर्ष 207 घंटे…

View More बुलंदी ने पूरा किया लगातार 250 घण्टे काव्य पाठ का रिकॉर्ड

“आजादी ” – मोटिवेशनल स्पीकर मनोज भट्ट की स्वरचित कविता

हम आजाद तो हो गए है, अंग्रेजो की गुलामी से।  हम आजाद तो हो गए है, उन जकडी गयी बेड़ियों से।  पर आजादी अभी पूरी…

View More “आजादी ” – मोटिवेशनल स्पीकर मनोज भट्ट की स्वरचित कविता

“मेरा इंकलाब जिंदा है” – सुमन बिष्ट की स्वरचित कविता

मेरा इंकलाब ज़िंदा है मेरे वतन की मिट्टी में मिला किसी के लहू का कतरा देता आज भी याद किसी की कुर्बानी है मेरा इंकलाब…

View More “मेरा इंकलाब जिंदा है” – सुमन बिष्ट की स्वरचित कविता