नशा मुक्त देवभूमि मिशन 2025 के अन्तर्गत SSP ALMORA का ड्रग्स के विरुद्ध जंग का ऐलान, व्यापार मण्डल/ टैक्सी यूनियन/सिनियर सिटीजन/रेडक्रास सोसायटी/ सम्भ्रान्त नागरिको व अन्य संगठनों को नशे के दुष्परिणामों से आगाह करते हुए लोगों को जागरुक करने में सहयोग करने की अपील की गई

मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड सरकार के “ड्रग्स फ्री देवभूमि” मिशन 2025 को साकार करने के लिये प्रदीप कुमार राय वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में Almora Police द्वारा विश्वव्यापी संस्था अल्कोहल एनोनिमस/ नारकोटिक्स एनोनिमस संस्था के सहयोग से जनपद अल्मोड़ा में वृहद स्तर पर नशा मुक्ति का सेमिनार /काउंसलिंग कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। 

कार्यक्रम में सेना के जवान/पुलिस जवान/ स्कूली छात्र-छात्राओं/जनपद के समस्त विभागों/जन सामान्य/व्यापार मण्डल सहित समस्त वर्गों/ युवाओं को नशे से दूर रहकर खुशहाल जीवन जीने की प्रेरणा दी गई। 

इसी क्रम में दिनांक 5/8/2022 को मुरली मनोहर हाल में व्यापार मण्डल/ टैक्सी यूनियन/ सिनियर सिटीजन/ रेडक्रास सोसायटी/ महिला कल्याण संस्था/ सम्भ्रान्त नागरिको व अन्य संगठनों को SSP ALMORA ने ड्रग्स के भयावह परिणामों से आगाह करते हुए कहा कि हमें यह नही सोचना चाहिये कि हमारे परिवार में तो कोई नशा नही करता हमें इस जागरुकता कार्यक्रम से क्या लेना देना, लेकिन यह ड्रग्स ऐसा राक्षस है, जो बिना आहट के दबे पाँव कब किसके घर में घुस जाय इसका अनुमान भी नही लगाया जा सकता। 

ड्रग्स एक ऐसी आग है, जिसकी एक छोटी सी चिंगारी कभी भी किसी के हँसते खेलते परिवार की खुशियों को तहस नहस कर सकती है। 

SSP ALMORA ने सभी अभिभावकों/ समाज के हर वर्ग को आगाह करते हुए कहा कि हमें युवाओं पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है, युवा अवस्था ड्रग्स के लिये ईधन का कार्य करती है, जिस प्रकार ईधन एक छोटी सी चिंगारी के सम्पर्क में आने से भयावह आग का रुप ले लेती है, जिसे बुझा पाना काफी मुश्किल हो जाता है, उसी प्रकार *युवा द्वारा उठाया गया एक गलत कदम उसे ड्रग्स के दलदल में फँसा सकता है, जिससे बाहर आना मुश्किल हो जाता है। इसलिए समाज के हर वर्ग को युवाओं को नशे के दुष्परिणामो से सचेत करते रहना चाहिए, तभी अल्मोड़ा को ड्रग्स फ्री करने का हमारा प्रयास सफल हो पायेगा। 
एल्कोहलिक ड्रग्स एनोनिमस संस्थान के अनुभवी सदस्यों द्वारा नशे के विरुद्ध जागरुक करते हुए बताया कि नशा व्यक्ति के नाश का कारण है, वे पूर्व स्वंय नशे के शिकार थे, परन्तु अब नशे से दूर रहकर खुशहाल जीवन व्यतीत कर रहे हैं, समाज को नशे की बुराई से दूर रहने हेतु जागरुक कर रहे हैं।
कार्यक्रम का संचालन उ0नि0 सपु0 दामोदर कापड़ी पुलिस लाईन अल्मोड़ा द्वारा किया गया। 

जागरुकता अभियान के दौरान विमल प्रसाद सीओ अल्मोड़ा, सुश्री ओशीन जोशी सीओ आँपरेशन अल्मोड़ा, जितेन्द्र पाठक प्रतिसार निरीक्षक अल्मोड़ा, राजेश यादव प्रभारी निरीक्षक कोतवाली अल्मोड़ा, वरि0 उ0नि0 सतीश कापड़ी कोतवाली, प्रभारी चौकी एनटीडी बिशन लाल, प्रभारी इन्टरसैप्टर जीवन सिंह सामंत, प्रभारी एडीटीएफ सौरभ कुमार भारती, प्रभारी एसओजी सुनील धानिक, उ0नि0 सपु0 मोहित कुमार पुलिस लाईन अल्मोड़ा पीआरओ हेमा ऐठानी, कानि0 कविन्द्र सिंह मीडिया सैल, नगर व्यापार मण्डल अध्यक्ष अल्मोड़ा सुशील साह, रेडक्रास सोसायटी के अध्यक्ष मनोज सनवाल, डे केयर सैन्टर के अध्यक्ष हेम चन्द्र जोशी, महिला कल्याण संस्थान की अध्यक्षा श्रीमती रीता दुर्गापाल, टैक्सी यूनियन के अध्यक्ष शैलेन्द्र तिलारा, टैक्सी यूनियन महासचिव नीरज पवार, सचिव अर्जुन सिंह, उपसचिव आनन्द भोज, सभासद अमित साह, डा0 जे0सी0 दुर्गापाल, विनोद बिष्ट व अन्य संगठनो के सदस्य, नगर के सम्भ्रान्त लोग व होमगार्ड के जवान भी उपस्थित रहे।