भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने ओलंपिक में जीता कांस्य पदक

भारत ने इंटरनेशनल हॉकी में जोरदार वापसी की है। हॉकी भारत का राष्ट्रीय खेल है और इसका लंबा इतिहास रहा है लेकिन 1980 के बाद से भारत ने ओलंपिक खेलों में कोई मेडल नहीं जीता था। लेकिन टोक्यो ओलंपिक में भारत ने ब्रॉन्ज मेडल के साथ दिखा दिया है कि वह इस खेल में फिर से बादशाहत कायम करने का माद्दा रखता है।
41 साल बाद भारत ने हॉकी का ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम कर लिया है। भारत ने जर्मनी को 5-4 से हराया। भारत के लिए यह शानदार जीत है। भारत को 41 साल बाद ओलंपिक में हॉकी का मेडल मिला है। भारत इस पूरे सफर के दौरान अपने से कम रैंक की टीम से मुकाबला नहीं हारी है।