BFA में चल रही सात दिवसीय चित्रकला प्रदर्शनी Expression-2 का हुआ समापन 

दृश्यकला संकाय मे चल रही चित्रकला प्रदर्शनी का समापन आज सायं हुआ। सात दिनों तक चली यह प्रदर्शनी दृश्य कला संकाय के शिक्षकों के कुशल निर्देशन में कार्य कर रहे विद्यार्थियों के कलात्मक प्रतिभा को सिद्ध करने में सफल रही है। इस अवसर पर प्रोफेसर एन०एस० भंडारी कुलपति (सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय अल्मोड़ा) ने प्रतिभागी युवा कलाकारों को सफल आयोजन हेतु शुभकामनाएं प्रेषित की तथा भविष्य में भी उनकी प्रतिभा के विकास हेतु पूर्ण सहयोग करने का आश्वासन भी दिया। 

प्रो. जगत सिंह बिष्ट (निदेशक शोधानुभाग एवं संकायाध्यक्ष कला संकाय) ने प्रदर्शनी की सराहना करते हुए शिक्षक और विद्यार्थियों द्वारा किये गये इस सफल संयोजन की प्रशंसा कि और कहा कि इस तरह के आयोजन से चित्रकारों को दर्शकों के तत्कालीन रूचि का ज्ञान होता है। उसके कार्यों का मूल्यांकन होता है जो कि एक कलाकार को आगे बढ़ने के लिए बेहद आवश्यक है। 

प्रोफेसर प्रवीण सिंह बिष्ट (अधिष्ठाता परिसर प्रशासन) ने कहा कि यह संकाय कला के क्षेत्र में निरंतर प्रतिभावान कलाकारों का निर्माण कर रहा है तथा उन्हें रोजगार व स्वरोजगार की दिशा मे प्रेरित करने में सफल है। 

प्रोफेसर शेखर चंद्र जोशी (अधिष्ठाता शैक्षिक) ने संकाय के कलाकारों के कार्यों की समीक्षा की और उनको भविष्य हेतु उच्च स्तरीय कार्य करने हेतु दिशा निर्देशन दिया। 

प्रोफेसर सोनू द्विवेदी शिवानी (संकाय अध्यक्ष दृश्य कला संकाय, विभागाध्यक्ष चित्रकला) ने समस्त आयोजक मंडल सहित संयोजक समिति के विद्यार्थियों को सफल आयोजन हेतु बधाई दी और कहा कि एम०एफ०ए० अंतिम वर्ष 2022 द्वारा आयोजित की गई इस सात दिवसीय चित्रकला प्रदर्शनी ने संकाय के सफलता में एक नया आयाम जोड़ा है जो आने वाले विद्यार्थियों के लिए निसंदेह मार्गदर्शन और प्रोत्साहन का काम करेगा। 

प्रदर्शनी में चित्र का संयोजन, स्मारिका एवं फ्लैक्स का सुंदर निर्माण मुख्य संयोजक चंदन आर्या (अतिथि व्याख्याता दृश्यकला) के साथ वरिष्ठ छात्र पंकज जयसवाल, हर्षित कुमार, मुकेश चनियाल के द्वारा प्रोफेसर सोनू द्विवेदी (शिवानी) के निर्देशन में किया गया। 

डाक्टर संजीव आर्य (वरिष्ठ प्राध्यापक चित्रकला), कौशल कुमार (अतिथि व्याख्याता दृश्यकला) ने समस्त अतिथियों, आयोजक मंडल, विद्यार्थियों एवं मीडिया का विशेष आभार जताया। जिन्होंने लगातार युवा कलाकारों के कार्यों को प्रसारित कर प्रोत्साहन देने में सहयोग किया है। 

इस अवसर पर रमेश मौर्या, संतोष मेर, पूरन मेहता, जीवन जोशी सहित चित्रकला विभाग तथा दृश्यकला के विद्यार्थी एवं भारी संख्या मे दर्शक गण उपस्थित रहे। 

प्रदर्शनी संयोजन में विशेष सहायक रहे पूरन सिंह मेहता, संतोष सिंह मेर, रमेश चंद्र मौर्य एवं जीवन जोशी ने सफल समापन हेतु सभी का आभार व्यक्त किया। चित्रकला विभाग एवं दृश्य कला संकाय के सभी विद्यार्थियों सहित दर्शक गण इस अवसर पर उपस्थित रहे।